आज के महत्वपूर्ण एवं रोचक सामान्य ज्ञान में माउंट एवरेस्ट से संबंधित विशेष जानकारियां पढ़े – Read important information related to Mount Everest in today’s important and interesting general knowledge.

आज के महत्वपूर्ण एवं रोचक सामान्य ज्ञान में माउंट एवरेस्ट से संबंधित विशेष जानकारियां पढ़े – Read important information related to Mount Everest in today’s important and interesting general knowledge.
  • माउंट एवरेस्ट का नाम तत्कालीन भारत के महासर्वेक्षक सर जॉर्ज एवरेस्ट के नाम पर पड़ा जिन्होंने एवरेस्ट की अवस्थिति का पता लगाया । वे 1830 से 1843 ई . तक भारत के महासर्वेक्षक रहे । विगत में माउंट एवरेस्ट को चोटी – 15 कहा जाता था ।
  • एवरेस्ट की स्थिति देशान्तर – 86°55 ‘ 40 ” पूर्वअक्षांश – 27°59’16” उ. पर्वतमाला के आस – पास के विभिन्न स्थलों के औसत मापन द्वारा 1954 ई . में माउंट एवरेस्ट ऊँचाई 8,848 मीटर आँकी गयी थी । नेशनल जियोग्राफिक सोसाइटी ने जीपीएस उपग्रह के उपयोग द्वारा 5 मई , 1999 ई . को एवरेस्ट की ऊँचाई 8,850 मीटर होने की पुष्टि की है ।
  • माउंट एवरेस्ट को तिब्बत में कोमोलंग्मा ( बर्फ की देवी ) तथा नेपाल में सागरमाथा ( ब्रह्माण्ड की माता ) कहते हैं । इसे पृथ्वी का तीसरा ध्रुव भी कहा जाता है ।
  • सबसे पहले एडमंड हिलेरी और तेनजिंग नोरगे 1953 ई . में माउंट एवरेस्ट की चोटी पर पहुंचे थे ।
  • नोवांग गोम्बू ( Nawang Gombu ) प्रथम व्यक्ति है , जो माउंट एवरेस्ट पर दो बार चढ़े । पहली बार 1 मई , 1963 ई . में ( अमेरिकी अभियान दल के साथ ) एवं दूसरी बार 20 मई , 1965 ई . में ( भारतीय अभियान दल के साथ ) । नोवांग गोम्बू , तेनजिंग नोर्गे के भतीजा हैं ।
  • जिम व्हीटकर Jim whittaker ) प्रथम अमेरिकी हैं , जिन्हें 1 मई , 1963 ई . में माउंट एवरेस्ट पर चढ़ने में सफलता प्राप्त हुई ।
  • जुंको तबई ( जापान ) पहली महिला है जो एवरेस्ट पर चढ़ी ( 1975 ई . ) ।
  • बछेन्द्री पाल पहली भारतीय महिला है जो 1984 ई . में एवरेस्ट के शिखर पर पहुँची ।
  • फू दोरजी ( Phu Dorji ) प्रथम व्यक्ति हैं , जो 9 मई , 1984 ई . को बिना ऑक्सीजन के माउंट एवरेस्ट पर चढ़ने में सफलता प्राप्त की ।
  • अप्पा शेरपा ( नेपाल ) सर्वाधिक 21 बार ( मई , 2011ई . ) एवरेस्ट पर पहुँचने में सफल हुए । अप्पा शेरपा अपने चौथे प्रयास में पहली बार मई , 1990 ई . में न्यूजीलैंड के रॉब हॉल ( Rob Hall ) के नेतृत्व में एवरेस्ट पर पहुँचने पर सफल हुए थे ।
  • विश्व में सबसे कम उम्र ( 13 वर्ष ) में एवरेस्ट शिखर पर चढ़ने वाला पुरुष जॉर्डन रोमेरो ( अमेरिका ) है , जिसने 22 मई , 2010 ई . को शिखर पर चढ़ने में सफलता प्राप्त की ।
  • विश्व में सबसे कम उम्र ( 13 वर्ष ) में एवरेस्ट शिखर पर चढ़ने वाली महिला मालवेथ पूर्णा ( भारत , आन्ध्रप्रदेश ) है , जिसने 25 मई , 2014 ई . को शिखर पर चढ़ने में सफलता प्राप्त की ।
  • सबसे कम उम्र ( 15 वर्ष ) में एवरेस्ट शिखर पर चढ़ने में सफल होने वाला भारतीय पुरुष राधव जुनेजा ( मुरादाबाद , उत्तर प्रदेश ) है । इसने 21 मई , 2013 ई . को एवरेस्ट शिखर पर चढ़ने में सफलता प्राप्त की । इसके साथ इसके स्कूल लारेन्स के पाँच बच्चे भी थे । यह विश्व की प्रथम स्कूल टीम है जिसे एवरेस्ट शिखर पर चढ़ने में सफलता प्राप्त हुई ।
  • अर्जन बाजपेयी ( नोएडा , उत्तर प्रदेश ) 16 वर्ष की अवस्था में एवरेस्ट शिखर पर 13 मई , 2010 ई . को चढ़ने में सफल हुआ ।
  • अमेरिका के टॉम व्हाइटेकर पहले विकलांग व्यक्ति थे ( कृत्रिम टांग ) जो 1998 ई . मैं एवरेस्ट के शिखर पर पहुंचे ।
  • हीमोफीलिया रोग से पीड़ित प्रथम व्यक्ति क्रिस बॉस्वाडियर ( डेनवर अमरीका ) ने 22 मई , 2017 को माऊन्ट ऐवरेस्ट पर चढ़ने में सफलता प्राप्त की । इसने माऊन्ट विन्सन को छोड़कर विश्व के सभी महाद्वीपों के ऊँची चोटी पर चढ़ने में भी सफलता प्राप्त की है ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *