महिलाओं के जनधन खाते में आज आएगी पहली किस्त

महिलाओं के जनधन खाते में आज आएगी पहली किस्त

महिलाओं के जनधन खाते में आज आएगी पहली किस्त, जानें विस्तार से

मोदी सरकार ने कोरोना संकट के कारण से गरीबों के बैंक खातों में पैसे डालने का घोषणा किया था. देशभर में लॉकडाउन की घोषणा के बाद सरकार गरीब महिलाओं के जनधन खाते में हर महीने 500 रुपये डालेगी. सरकार की तरफ यह मदद की रकम तीन महीने तक दी जाएगी.

देश में 20 करोड़ से भी ज्यादा जन-धन खाताधारक महिलाओं के लिए भी मोदी सरकार ने बड़ी घोषणा की है. लोगों से कहा गया है कि वह यह राशि अपनी सुविधानुसार बाद में कभी भी निकाल सकते हैं. सरकार द्वारा निकासी के लिए एटीएम का प्रयोग करने की सलाह दी गई है.

प्रधानमंत्री जनधन योजना

सरकार द्वारा प्रधानमंत्री जनधन योजना के तहत जीरो बैलेंस पर बचत खाते खोले गए हैं. इन खातों में ही यह राशि प्रदान की जाएगी. जनधन खाता खुलवाने पर दुर्घटना बीमा, ओवरड्राफ्ट फेसिलिटी और चेकबुक सहित अन्य लाभ भी मिलते हैं.

जनधन खातों में डाले जाएंगे पैसे

इंडियन बैंक एसोसिएशन (IBA) ने सभी बैंकों को आदेश दिया है कि वह अपने यहां महिलाओं के जनधन खाते में 3 अप्रैल से 500 रुपये हर महीने डालना शुरू कर दें. इस महीने यह रकम महिलाओं के खाते में 3 अप्रैल से 9 अप्रैल के बीच डाले जाएंगे.

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना

केंद्र सरकार के आदेश के अनुसार महिलाओं के जनधन खाते में तीन महीने तक हर महीने 500 रुपये की राशि प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के तहत मदद में दी जाएगी. खाताधारकों के अकाउंट में पैसे उनके अकाउंट नंबर के आखिरी अंक के अनुसार अलग-अलग दिन डाले जाएंगे, ताकि किसी तरह की गड़बड़ी न हो.

पैसे डालने का नियम

इंडियन बैंक एसोसिएशन के अनुसार, जिन जनधन खातों की आखिरी डिजिट 0 या 1 है, उसे खाते में 3 अप्रैल को पैसे डाले जाएंगे. जनधन खातों की आखिरी डिजिट 2 या 3 है, उसे खाते में 4 अप्रैल को पैसे डाले जाएंगे. जिन जनधन खातों की आखिरी डिजिट 4 या 5 है, उसे खाते में 7 अप्रैल को पैसे डाले जाएंगे. जिन जनधन खातों की आखिरी डिजिट 6 या 7 है, उसे खाते में 8 अप्रैल को पैसे डाले जाएंगे. हालांकि, जिन जनधन खातों की आखिरी डिजिट 8 या 9 है, उसे खाते में 9 अप्रैल को पैसे डाले जाएंगे.

पृष्ठभूमि

गौरतलब है कि देश में लॉकडाउन के बाद वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा था कि गरीब महिलाओं के जनधन खातों में हर महीने 500 रुपये डाले जाएंगे. कुल जनधन खातों में 53 प्रतिशत महिलाओं के नाम है. इस तरह से लगभग 20 करोड़ महिलाओं को इसका सीधा लाभ मिलेगा. सरकार के बयान के अनुसार किसी भी बैंक के एटीएम से पैसा निकाला जा सकता है और सरकार के निर्देश के अनुसार उसके लिये फिलहाल कोई शुल्क नहीं देना होगा.

इसके अतिरिक्त बैंकों को पीएम-किसान योजना के लाभार्थियों को भी देखना है. इसके तहत पहली किस्त के रूप में 2,000 रुपये दी जा रही है. इस योजना में सालाना तीन किस्तों में 6,000 रुपये दी जाती है. बैंकों को अगले तीन महने महीने में तीन करोड़ गरीब विधवा पेंशनभोगियों और गरीब दिव्यांगों के खाते में 1,000 रुपये की अनुग्रह राशि देने को कहा गया है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *